चाय के साथ-साथ कुछ कवितायें भी हो जाये तो क्या कहने...

Thursday, November 8, 2007

कृपया ध्यान दिजियेगा...

आप सभी कवियों व श्रोताओ को सूचित किया जाता है कृपया आयोजन स्थल का पता नोट कर लें सभी के ई मेल एड्र्स नही आये है अतः मेरे लिये बहुत मुश्किल है आप सभी को बता पाना...जिनके है उन्हे मेल की जा सकती है मगर बाकि लोग पता व फोन नम्बर नोट कर लिजिये...

मंगलमय हो दीपो की माला
आप खुशियाँ खूब मनायें
भूली-बिसरी व्यर्थ की बातें
दिल से आज हटायें
गायें गीत नया ही कोई
छेड़े नया तराना
बस इतना है नम्र निवेदन
मुझको भूल न जाना

आप सभी को दीपावली बहुत-बहुत मुबारक हो...

14 comments:

  1. धन्‍यवाद ! सुनिता जी। हम तो इसी का इन्‍तजार कर रहे थे। वैसे यह पता तो कुछ जाना पहचाना सा लग रहा है। ढूँढ ही लेंगे, आपको और बाकी के सारे आमन्त्रित अथितियों को :).....

    ReplyDelete
  2. दीपावली बहुत-बहुत मुबारक हो

    ReplyDelete
  3. हिंदी चिटठा समुदाय को दिवाली शुभ हो
    आप सब को दिवाली शुभ हो
    सबके यहाँ आये खुशिया
    दीये हो दिवाली के
    रौशनी हो आशीर्वादों की
    आये सब मिल कर
    माहोल को मीठा
    दिवाली पर बनाये
    इस हफ्ते बिना
    वाद विवाद के
    संस्कार कुछ मीठे
    मिल कर सब दे जाये
    तीज त्यौहार
    ना निकाले मित्र
    मन की भडास
    वैस ही ज़माने मे गम
    कुछ कम नहीं है
    कब कुछ हो जाये
    और हम आप से दिवाली
    भी ना मनाई जाये
    कुछ गम भी हो तो दिवाली
    पर आंखो के देखने दे सिर्फ
    आतिश बाजी , दिये और , मिठाई
    देश की तरक्की को देखे
    भ्रम ही अगर खुशिया हमसब की
    तो भ्रम मे चार दिन रहना मित्र
    आशीर्वादों की रौशनी से
    मन को अपने रोशन करना

    ReplyDelete
  4. सुनिता जी
    आपको भी दीपावली की शुभकामनाएँ ! आपका पता हमने भी लिख लिया है. जब भी दिल्ली आना होगा, आपसे ज़रूर मिलना होगा.

    ReplyDelete
  5. आप सभी को दिपावली की हार्दिक शुभकामनायें। प्रभु श्रीनाथजी आप सभी को सुख, शांति और समृद्धि प्रदान करें। यही हमारी मंगलकामना है।

    श्रीनाथद्वारा की दीपावली एवं अन्‍नकूट देशभर में अपने आप में अनूठा है, आप सभी आमन्त्रित हैं दीपावली पर्व पर प्रभु के अलौककि दर्शन करने एवं गौ क्रीडा देखने और अन्‍नकूट लूट की मनोहारी लीला देखने।

    सादर नीरज शर्मा
    श्रीनाथद्वारा (राजस्‍थान)

    ReplyDelete
  6. सुनिता जी,दीपावली की शुभकामनाएँ ! .

    ReplyDelete
  7. दीपावली बहुत-बहुत मुबारक॥

    ReplyDelete
  8. आपके घर का पता ऒर फोन नंबर, दोनों नोट कर लिये हॆ.आपको एवं आपके समस्त परिवार को दीपावली की शुभकामनायें.शेष १२ नवंबर को.

    ReplyDelete
  9. मेज़बानी के लिये शुभकामनाएँ.
    दीपोत्सव की बेला आयोजन का रस बढ़ाए
    सुनीता 'दी' आपका आँगन कविताओं से जगमगाए
    फ़िर मंगलकामनाएँ.

    ReplyDelete
  10. चलिये आपको एक सफल आयोजन के लिये अभी से हमारी शुभकामनाएं आप का ये आयोजन सफलता की ऊंचाइयों को छुए । आपको दीपावली की शुभकामनाएं ।

    ReplyDelete
  11. इस कार्यक्रम के आयोगन के लिये बधाईयां. प्रभु करे कि आप को दिन रात अनुग्रह मिलता रहे -- शास्त्री

    हिन्दी ही हिन्दुस्तान को एक सूत्र में पिरो सकती है.
    इस काम के लिये मेरा और आपका योगदान कितना है?

    ReplyDelete
  12. सुनीता जी,
    दीपावली की शुभकामनाएं और आयोजन के लिए बधाई।
    वाकई नेट पर एक ऐसी दुनिया विकसित होती जा रही है जो भले ही इमेजिनरी स्पेस में हो लेकिन है रोमांचक और यह रोमांच रीयल है।
    गोष्ठी की रिपोर्ट जरूर पोस्ट करिएगा यहां।

    ReplyDelete
  13. सुनीता जी,
    जबरदस्त आयोजन के लिए कोटि-कोटि बधाई। मुझे आज पता चला जब मैं भटकती हुई आपके ब्लाग पर आई। आगे कोई आयोजन करें तो मैं अवश्य शामिल होना चाहूंगी।

    ReplyDelete

स्वागत है आपका...