चाय के साथ-साथ कुछ कवितायें भी हो जाये तो क्या कहने...

Sunday, July 10, 2011

एक पल की उम्र लेकर ( सजीव सारथी के काव्य-संग्रह पर एक नजर)

आज कविता नही बस एक गुजारिश है आप इसे अवश्य पढ़े...

http://mereerachana.blogspot.com/2011/07/blog-post_10.html

3 comments:

स्वागत है आपका...